Breaking News

शराब पीकर बिजली ठीक करने पहुंचा JE: आधी रात को हुए हंगामे के बाद पावरकॉम ने शुरू की डिपार्टमेंटल इन्क्वायरी, बीच का रास्ता निकालने में जुटे अफसर

जालंधर3 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

शराब पीकर बिजली ठीक करने पहुंचा JE

शराब के नशे में धुत होकर हंगामा करने वाले जूनियर इंजीनियर (JE) भूपिंदर सिंह के खिलाफ डिपार्टमेंट इन्क्वायरी शुरू हो गई है। थाना डिवीजन 7 की पुलिस ने भी पूरी रिपोर्ट बनाकर पावरकॉम को भेज दी है। मामला रविवार रात को जालंधर हाइट्स में बिजली बंद होने का है। जब वहां JE को बुलाया गया तो वो शराब के नशे में इतना धुत था कि ढंग से खड़ा भी नहीं हो पा रहा था। जिस वजह से उसे फीडर के अंदर नहीं घुसने दिया गया। हालांकि पूरे मामले में पावरकॉम के अफसर बीच का रास्ता निकालने में जुटे हुए हैं।

JE की फेंकी शराब की बोतल जब्त करता पुलिस कर्मी।

JE की फेंकी शराब की बोतल जब्त करता पुलिस कर्मी।

शराब पीने के बावजूद वहां जाने व हंगामा गलत : SDO

पावरकॉम के मॉडल टाउन SDO उमेश कुमार ने कहा कि शुरूआती जांच में पता चला कि JE किसी फंक्शन में गए थे। जिस वजह से ड्रिंक कर ली। रूटीन में ड्यूटी सुबह 9 से शाम 5 बजे तक होती है। ऐसी सूरत में अब दूसरे JE की मदद ले लेते हैं। फिर भी वो शराब पीने के बावजूद फीडर में क्यों गए? और वहां इस तरह का हंगामा क्यों किया? इसके बारे में इन्क्वायरी की जा रही है। जब हमें इसका पता चला तो दूसरे JE को ले जाकर सुबह करीब 3 बजे बिजली सप्लाई चालू कर दी गई।

JE के शराब के नशे में होने का पता चलने पर फीडर का गेट बंद कर खड़े कर्मचारी।

JE के शराब के नशे में होने का पता चलने पर फीडर का गेट बंद कर खड़े कर्मचारी।

फीडर कर्मचारियों ने दिखाई समझदारी

पूरे मामले में फीडर कर्मचारियों ने समझदारी दिखाई क्योंकि JE नशे में धुत था। फीडर के अंदर हाई वोल्टेज सप्लाई रहती है। ऐसे में अगर वो अंदर घुसकर कुछ गड़बड़ी कर देता तो बड़ा नुकसान हो जाता। फीडर्स के सीनियर सब स्टेशन इंजीनियर नीरज पिपलानी ने कहा कि बिजली शाम करीब 6 बजे बंद हुई थी। तब एक-दो बार ट्राई की गई लेकिन फीडर नहीं चला। उसके बाद SDO ने JE को भेजा था।

यह है मामला

जालंधर हाईट्स में रविवार शाम बिजली बंद हो गई तो लोगों ने पावरकॉम को इसकी शिकायत की। कर्मचारियों से सप्लाई ठीक न हुई तो JE भूपिंदर सिंह को बुलाया गया था। जब वो कार में पहुचा तो उसने इतना नशा कर रखा था कि ढंग से चल भी नहीं पा रहा था। यह देख कर्मचारियों ने उसे फीडर के अंदर नहीं घुसने दिया। मीडिया कवरेज करने गई तो उनसे भी झगड़ा गया। बाद में वहां पहुंची थाना डिवीजन 7 की पुलिस ने उसे हिरासत में ले लिया।

खबरें और भी हैं…

पंजाब | दैनिक भास्कर

About R. News World

Check Also

विरोध प्रदर्शन: रैनक बाजार और घरों के ऊपर से निकलतीं तारें शिफ्ट न होने पर कौंसलर 16 जून को देंगे धरना

जालंधर4 घंटे पहले कॉपी लिंक रैनक बाजार में तीन माह पहले मंजूर हुए बिजली की …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *