Breaking News

शिक्षक नियुक्ति मामला: हाईकोर्ट में याचिकाकर्ता का दावा- अधिकारियों ने बार-बार पत्र जारी कर विज्ञापन को विवादित बनाया; कोर्ट वे अभ्यावेदन दाखिल करने को कहा

  • Hindi News
  • Local
  • Bihar
  • Patna High Court Asked Petitioner To File Representation On Primary And Secondary Teachers Employment In Bihar

पटना5 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

पटना हाई कोर्ट।

राज्य के प्राइमरी व मिडल स्कूलों में शिक्षकों की नियुक्ति हेतु चल रहे नियोजन प्रक्रिया मामले में पटना हाई कोर्ट ने संबंधित अधिकारी के समक्ष अभ्यावेदन दाखिल करने को कहा है। मुख्य न्यायाधीश न्यायमूर्ति संजय करोल व न्यायमूर्ति एस कुमार की खंडपीठ ने शिवजी चौरसिया द्वारा दायर याचिका पर सुनवाई करते हुए उक्त आदेश को पारित किया। मामला 5 जुलाई, 2019 को प्रकाशित विज्ञापन से जुड़ा हुआ है।

याचिकाकर्ता को आदेश की तिथि से चार सप्ताह के भीतर संबंधित अधिकारी के समक्ष अपने शिकायत के निवारण हेतु अभ्यावेदन दायर करने को कहा गया है। संबंधित अधिकारी आदेश की प्रति के साथ अभ्यावेदन मिलने पर इसे प्राथमिकता देते हुए तीन महीने के भीतर सकारण और तार्किक आदेश से अभ्यावेदन पर विचार करते हुए शीघ्रता से निष्पादित करेंगे।

याचिकाकर्ता के अधिवक्ता सुरेंद्र कुमार सिंह ने बताया कि संबंधित सरकारी अधिकारियों द्वारा उक्त मामले में बार-बार पत्र जारी कर शिक्षकों के नियोजन हेतु निकाले गए विज्ञापन को विवादित बना दिया गया है, जोकि भारत के संविधान के अनुच्छेद 309 का उल्लंघन है। उनका कहना था कि कोई भी विज्ञापन सशर्त होता है। अभी तक संबंधित अधिकारियों द्वारा 24 से भी अधिक पत्र जारी किया जा चुका है। जो भ्रष्टाचार को बढ़ावा देने का संकेत करता है।

उन्होंने आगे बताया कि कुछ इसी प्रकार की प्रक्रिया की वजह से वर्ष 2006 से 2011 के शिक्षक नियोजन में भ्रष्टाचार उजागर हुआ था। उनका कहना था प्रक्रिया को पारदर्शी बनाने का अच्छा तरीका ऑनलाइन प्रक्रिया है। आखिर ऑन लाइन आवेदन क्यों नहीं लिया जा रहा है? जबकि बिहार सरकार आंगनवाड़ी, आई टी आई, ज्यूडिशियल सर्विस- 2020, जेईई, नीट व नियमित स्वास्थ्य सेवा के लिए ऑनलाइन प्रक्रिया अपनाती है। पारदर्शिता के लिए बार-बार पत्र जारी करने के बजाए ऑनलाइन आवेदन के जरिये नियुक्ति की प्रक्रिया की जाए।

खबरें और भी हैं…

बिहार | दैनिक भास्कर

About R. News World

Check Also

हर्ष फायरिंग मामले पर पटना हाई कोर्ट में सुनवाई: हाई कोर्ट का राज्य सरकार को जवाब दाखिल करने का निर्देश, हर्ष फायरिंग में लोगों की जाती है जान

पटनाएक घंटा पहले कॉपी लिंक पटना हाई कोर्ट ने राज्य में शादी समारोहों व जुलूस …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *