Breaking News

साइबर ठगी का नया ट्रेंड: महत्वपूर्ण फाइल्स हैक कर ट्रांसफर करा रहे लाखों के बिटकाॅइन, सोशल मीडिया पर फर्जी आईडी बना दे रहे ऑफर, बिटकाॅइन लेने के बाद मोबाइल व आईडी दोनों बंद

लुधियाना21 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

साइबर ठगों का ट्रेंड दिनों-दिन बदलता जा रहा है। कभी कोरोना की वैक्सीनेशन और कभी जॉब के नाम पर ठगी का कारोबार चल रहा है। लेकिन इन दिनों कारोबारियों को बिटकाॅइन में निवेश करने के ऑफर देकर लुभाया जा रहा है। उन्हीं के चक्कर में फंसकर कुछ लोग पैसे लगा चुके हैं और कई ने इसकी शिकायत पुलिस के पास भी की है। हालांकि उनकी जांच चल रही है। लेकिन ठगी का ये नया पैंतरा काफी तेजी से बढ़ रहा है।

पुलिस के पास हर महीने एक से दो शिकायतें ऐसी आ रहीं है। जिसमें लोगों से ठगी कर ली गई या फिर उनके खातों से पैसे ट्रांसफर करवाकर बिटकाॅइन खरीद लिए गए। कुछ के पैसे पुलिस ने वापस करवाए, मगर ज्यादातर के पैसे नहीं मिल सके। पुलिस ने उक्त ठगों के सर्वर चेक किए हैं तो वो कनाडा और अमेरिका का आईपी शो कर रहे हैं।

सोशल साइट्स पर भेजते हैं लिंक, फिर ठगी, व्यापारी और आईटी सेक्टर टारगेट पर
ठगी करने वाले बिटकॉइन ट्रेडिंग के लिए व्यापारियों के साथ ऑनलाइन सोशल साइट्स के माध्यम से जुड़ जाते हैं। जिसके बाद उन्हें बताते हैं कि बिटकाॅइन की कीमत आने वाले दस साल में 1 हजार गुना तक बढ़ जाएगी, उन्हें ऑनलाइन कीमत भी दिखाई जाती है। व्यापारियों को इसमें निवेश करने का झांसा दिया जाता है। फिर ऑनलाइन माइनिंग, ट्रेडिंग के लिए एक पोर्टल दिखाया जाता है, जिसे देखकर व्यापारी झांसे में आ जाते हैं। पिछले दिनों में कुछ कारोबारियों ने शिकायत पुलिस को दी है, लेकिन अपना नाम सामने न रखने की शर्त भी रख रहें है।

फाइल्स करप्ट करने की धमकी दे मांगे बिटकाॅइन
एक कारोबारी ने पिछले दिनों साइबर सेल को शिकायत दी थी कि उनकी फाइल्स को किसी हैकर ने हैक कर लिया है। जिसके बदले वो लाखों के बिटकाॅइन मांग रहा है। जिसके बाद साइबर सेल की टीम ने एक कंप्यूटर इंजीनियर को हायर किया, जिसकी मदद से बिना हैकर को बिटकाॅइन दिए, कारोबारी की सारी फाइल्स रिकवर करवा दी, जिससे उनका करोड़ों का नुकसान हो सकता था।
फिर एक्टिव हुआ फर्जी जवान बन ठगी करने वाला
सोशल साइट्स पर इन दिनों खुद को आर्मी का जवान बताने वाला ठग फिर एक्टिव हो गया है। अब वो 23 हजार में एक्टिवा, वाॅशिंग मशीन और घर के सामान की फोटो डालकर बेच रहा है। जब कोई फोन करता है तो उससे आधार कार्ड और फोटो के साथ 2150 रुपए गूगल पे कराते ही ठग लेता है।

क्या है बिटकॉइन: बिटकॉइन वर्चुअल मनी है। लीगल टेंडर के रूप में आरबीआई द्वारा अधिकृत नहीं है। यानी भारत में ये मान्य नहीं है।

केस 1: बिटकाॅइन में निवेश किए पैसे
अनिल कुमार ने बताया उनकी एक शख्स से ऑनलाइन दोस्ती हुई। उसने बातों में उलझाकर खाते से लाखों रुपए ट्रांसफर करवा लिए। जोकि बिटकाॅइन में निवेश किए थे। उसका पता पुलिस इंवेस्टिगेशन में लगा।
केस 2: खाते से उड़े 9 हजार
वरूण शर्मा ने बताया कि उन्होंने ऑनलाइन एक्टिवा खरीदने के लिए संपर्क किया था। सामने वाले ने खुद को बठिंडा आर्मी में तैनात बताया था। आरोपी को उन्होंने 2 हजार रुपए भेजे थे, जिसके बाद उनके खाते से 9 हजार निकाल लिए गए।

बिटकाॅइन के मामले आ रहे हैं। एक मामले को हमने सॉल्व कर करोड़ों का नुकसान होने से बचाया है। लोगों को खुद भी समझदार होना चाहिए कि वो कहीं भी डिटेल्स शेयर न करें।
-रूपिंदर कौर भट्‌टी, एडीसीपी क्राइम​​​​​​​

खबरें और भी हैं…

पंजाब | दैनिक भास्कर

About R. News World

Check Also

महिला ने 2 बच्चों संग जहर खाकर सुसाइड किया: बरनाला में कालेके गांव की घटना, 3 माह पहले बड़े बेटे की डूबने से हुई मौत के बाद रहती थी परेशान

बरनालाएक घंटा पहले कॉपी लिंक धनौला सरकार अस्पताल में महिला वीरपाल कौर और उसकी 5 …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *