Breaking News

सियासी शनिवार: जम्मू में रोड शो कर ताकत दिखाएंगे राणा और सलाथिया, तैयारियों में जुटी भाजपा, नेकां ने लगाया ये आरोप

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, जम्मू
Published by: प्रशांत कुमार
Updated Thu, 14 Oct 2021 05:01 PM IST

सार

पूर्व विधायक देवेंद्र सिंह राणा और पूर्व मंत्री सुरजीत सिंह सलाथिया के भाजपा में शामिल होने से जम्मू संभाग में सियासी समीकरण बदलना तय माना जा रहा है। इस बात का अंदाजा नेशनल कांफ्रेंस और पीडीपी(पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी) को भी है।

पूर्व विधायक देवेंद्र सिंह राणा और पूर्व मंत्री सुरजीत सिंह सलाथिया
– फोटो : अमर उजाला

ख़बर सुनें

ख़बर सुनें

भाजपा में शामिल होने के बाद पूर्व विधायक देवेंद्र सिंह राणा और पूर्व मंत्री सुरजीत सिंह सलाथिया 16 अक्तूबर को जम्मू में रोड शो कर सकते हैं। दोनों नेताओं का स्वागत करने के लिए समारोह आयोजित करने की तैयारी की जा रही है। राणा और सथालिया के भाजपा में शामिल होने से जम्मू संभाग में सियासी समीकरण बदलना तय माना जा रहा है। इस बात का अंदाजा नेशनल कांफ्रेंस और पीडीपी को भी है।

हालांकि नेशनल कांफ्रेंस का मानना है कि दोनों नेताओं के भाजपा में शामिल होने से उन पर कोई असर नहीं पड़ेगा। नेकां के वरिष्ठ नेता चंद्र उदय सिंह ने देवेंद्र राणा और सुरजीत सिंह सलाथिया पर आरोप लगाते हुए कहा कि नेकां के शासन में दोनों नेताओं ने काफी सुख भोगा। उन्होंने कहा कि सांबा में पार्टी को कोई फर्क नहीं पड़ेगा। नेकां कार्यकर्ता पार्टी के साथ हैं। भाजपा ने लोगों के हितों के साथ खिलवाड़ किया है। अब लोग समझ चुके हैं। चुनाव में लोग भाजपा को सबक सिखाने के लिए तैयार हैं।
यह भी पढ़ें- सात आतंकियों का सफाया: पढ़ें दहशतगर्दों के खात्मे की पूरी कहानी और तस्वीरों में देखें जवानों का जोश

नेशनल कांफ्रेंस के वरिष्ठ युवा नेता अजय शर्मा ने कहा कि पूर्व मंत्री सुरजीत सिंह सलाथिया, पूर्व विधायक देवेंद्र राणा ने पार्टी को अलविदा कह कर भाजपा का दामन थामा है वह अपने फायदे के लिए ऐसा किया है। इससे लोगों को धोखा दिया गया है। उन्होंने आरोप लगाया कि नेकां में रहकर सत्ता का सुख भोगने वाले ये नेता जम्मू के हितों के लिए नहीं बल्कि अपने स्वार्थ के लिए पार्टी छोड़ी है।

 
विजयपुर विधानसभा क्षेत्र के कई नेशनल कांफ्रेंस पार्टी के नेताओं ने महासचिव अली मोहम्मद सागर को इस्तीफा दिया। इस्तीफा देने वालों में प्रेमपाल, जोगेश्वर सिंह, दर्शन लाल, मोहन सिंह, महेंद्र गुप्ता, भगवान सिंह शामिल हैं। उन्होंने बताया कि हम पूर्व मंत्री सुरजीत सिंह सलाथिया के साथ हैं।
 

विस्तार

भाजपा में शामिल होने के बाद पूर्व विधायक देवेंद्र सिंह राणा और पूर्व मंत्री सुरजीत सिंह सलाथिया 16 अक्तूबर को जम्मू में रोड शो कर सकते हैं। दोनों नेताओं का स्वागत करने के लिए समारोह आयोजित करने की तैयारी की जा रही है। राणा और सथालिया के भाजपा में शामिल होने से जम्मू संभाग में सियासी समीकरण बदलना तय माना जा रहा है। इस बात का अंदाजा नेशनल कांफ्रेंस और पीडीपी को भी है।

हालांकि नेशनल कांफ्रेंस का मानना है कि दोनों नेताओं के भाजपा में शामिल होने से उन पर कोई असर नहीं पड़ेगा। नेकां के वरिष्ठ नेता चंद्र उदय सिंह ने देवेंद्र राणा और सुरजीत सिंह सलाथिया पर आरोप लगाते हुए कहा कि नेकां के शासन में दोनों नेताओं ने काफी सुख भोगा। उन्होंने कहा कि सांबा में पार्टी को कोई फर्क नहीं पड़ेगा। नेकां कार्यकर्ता पार्टी के साथ हैं। भाजपा ने लोगों के हितों के साथ खिलवाड़ किया है। अब लोग समझ चुके हैं। चुनाव में लोग भाजपा को सबक सिखाने के लिए तैयार हैं।

यह भी पढ़ें- सात आतंकियों का सफाया: पढ़ें दहशतगर्दों के खात्मे की पूरी कहानी और तस्वीरों में देखें जवानों का जोश

नेशनल कांफ्रेंस के वरिष्ठ युवा नेता अजय शर्मा ने कहा कि पूर्व मंत्री सुरजीत सिंह सलाथिया, पूर्व विधायक देवेंद्र राणा ने पार्टी को अलविदा कह कर भाजपा का दामन थामा है वह अपने फायदे के लिए ऐसा किया है। इससे लोगों को धोखा दिया गया है। उन्होंने आरोप लगाया कि नेकां में रहकर सत्ता का सुख भोगने वाले ये नेता जम्मू के हितों के लिए नहीं बल्कि अपने स्वार्थ के लिए पार्टी छोड़ी है।

 

आगे पढ़ें

कई नेताओं ने नेकां की सदस्यता से दिया इस्तीफा

Latest And Breaking Hindi News Headlines, News In Hindi | अमर उजाला हिंदी न्यूज़ | – Amar Ujala

About R. News World

Check Also

जम्मू-कश्मीर: जम्मू संभाग के पांच और कश्मीर के चार जिलों में नहीं मिले कोरोना के नए मामले 

सार प्रदेश के 11 जिलों में सोमवार को कुल 60 मामले ही मिले। प्रदेश में …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *