Breaking News

सीएमओ का मौखिक आदेश: कोरोना संक्रमित सफाईकर्मी को निकाला, अनिश्चितकालीन हड़ताल पर बैठे कर्मचारी

खंडवा5 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक
  • सफाई कर्मचारी को न्याय दिलाने या इच्छा मृत्यु देने की मांग को लेकर

हरसूद नप में 10 साल से काम कर रहे सफाईकर्मी कर्मचारी अरुण कलोसिया कार्य के दौरान कोरोना संक्रमित हो गए थे। वे 21 दिन बेड रेस्ट पर रहे। ठीक होने के बाद अरुण जब काम पर लौटे तो सीएमओ मिलन पटेल ने उन्हें काम पर रखने से मना कर दिया। इसके विरोध में सफाई कर्मचारियों ने अनिश्चितकालीन हड़ताल शुरू कर दी है।

वही अरुण ने वन मंत्री विजय शाह, कलेक्टर अनय द्विवेदी, अनुविभागीय अधिकारी नया हरसूद-छनेरा, हरसूद नगर परिषद अध्यक्ष और थाना प्रभारी हरसूद-छनेरा को आवेदन देकर न्याय दिलाने की मांग की है। अरुण ने न्याय न दिला पाने की स्थिति में शासन के समक्ष इच्छामृत्यु की मांग की है।

कोरोना काल में सुरक्षा इंतजामों के बिना सफाई कर्मियों से कार्य कराने के विरोध में सीएमओ मिलन पटेल एवं नगर परिषद के अन्य अधिकारियों को लिखित में ज्ञापन दिया था। जिस पर कोई कार्रवाई सीएमओ व अन्य अधिकारियों द्वारा नहीं किए जाने से सभी सफाई कर्मियों ने नगर परिषद हरसूद में विरोध प्रदर्शन किया था। उसी के कारण सीएमओ मिलन पटेल अरुण से व्यक्तिगत रूप से नाराज हैं।

खबरें और भी हैं…

मध्य प्रदेश | दैनिक भास्कर

About R. News World

Check Also

दमोह में बुजुर्ग की हत्या का मामला: आरोपी को बिना रिमांड और पूछताछ के भेजा जेल, बेटे ने मुख्यमंत्री और डीजीपी से की जांच की मांग

Hindi News Local Mp Sagar The Accused Was Sent To Jail Without Remand And Interrogation, …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *