Breaking News

सीएम के बेटे के शादी समारोह में सिक्योरिटी की लापरवाही: शराब पीकर मेन फंक्शन में घुस गए पुलिसकर्मी, बोले-अपणे चन्नी बाई दे मुंडे दा ब्याह ऐ, रज्ज के मौजां करो

  • Hindi News
  • Local
  • Chandigarh
  • Mohali
  • The Policemen Entered The Main Function After Drinking Alcohol, Said Apne Channi Bai De Munde Da Marriage Aye, Do The Fun Of Rajj

मोहाली19 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

लेडीज संगीत के दौरान रिजॉर्ट में चल रही पार्टी।

पंजाब के सीएम चरणजीत सिंह चन्नी के बेटे की शादी में सुरक्षा में बड़ी लापरवाही सामने आई है। 8 अक्टूबर को रिजॉर्ट में हुए लेडीज संगीत के दौरान सिक्योरिटी घेरा तोड़कर कई लोग सीएम चन्नी तक पहुंच गए। वहीं, ड्यूटी पर तैनात एक पुलिस ऑफिसर उनके पास भी पहुंच गया। इसके अलावा मेन गेट पर तैनात तीन पुलिसकर्मी ड्यूटी छोड़कर शराब के नशे में फंक्शन में घूमते रहे। वे मेहमानों से यह कहते हुए दिखे कि ‘अपणे चन्नी बाई दे मुंडे दा ब्याह ऐ, रज्ज के मौजां करो’।

यही नहीं सादे कपड़ों में ड्यूटी पर तैनात एक इंस्पेक्टर फंक्शन में आए कई मंत्रियों के पैर छूकर आशीर्वाद ले रहा था। सीएम सिक्योरिटी में इतनी लापरवाही की पूरी पोल कार्यक्रम स्थल पर लगे सीसीटीवी कैमरों ने खोली है। इन फुटेज को पंजाब इंटेलिजेंस विंग के अधिकारियों ने खंगाला है। इन सभी कैमरों की डीवीआर पुलिस ने कब्जे में ले ली है। पंजाब इंटेलिजेंस विंग ने एक रिपोर्ट बनाकर डीजीपी पंजाब और आईजी, सीएम सिक्योरिटी को भेजी है।

कार्रवाई करते हुए एसएसपी मोहाली ने हेड काॅन्स्टेबल जसकरण सिंह, हेड काॅन्स्टेबल दर्शन सिंह और काॅन्स्टेबल सतबीर सिंह को नशे में धुत होने के चलते सस्पेंड कर दिया है। जिस इंस्पेक्टर सुखबीर सिंह के अंडर ये तीनाें मुलाजिम ड्यूटी पर तैनात किए गए थे, उन्हें भी सस्पेंड कर दिया है। एसएसपी नवजोत सिंह माहल ने बताया कि इन चारों के खिलाफ डिपार्टमेंट इंक्वायरी भी खोल दी गई है।

जिस दिन सीएम के बेटे का लेडीज संगीत कार्यक्रम था, उसी शाम को पुलिस अधिकारियों ने रिजॉर्ट के सीसीटीवी कैमरों के कंट्रोल रूम को अपने कब्जे में ले लिया था। वहां बैठकर ही सीएम सिक्योरिटी में लापरवाही को लेकर पूरी जानकारी इकट्‌ठा की गई। देखा गया कि कौन सा कर्मचारी कहां जा रहा है।

कर्मचारियों का मेडिकल भी कराया गया
मोहाली पुलिस ने भी मामले में अलग से अपनी जांच की है। एसपी-डी की ओर से तैयार की गई रिपोर्ट के अनुसार लेडीज संगीत के कार्यक्रम के दौरान सन्नी इंक्लेव के अरिस्ता पैलेस में तीन पुलिसकर्मी शराब के नशे में फंक्शन के अंदर पहुंच गए थे। इनकी हरकतों को देखकर लोग भी हैरान थे। रिपोर्ट में बताया गया है कि मेन गेट पर चेकिंग के लिए हेड काॅन्स्टेबल जसकरण सिंह, दर्शन सिंह और कांस्टेबल सतबीर सिंह को तैनात किया गया था।
मुलाजिमों के लिए अलग से खाने का प्रबंध किया गया था, लेकिन ये तीनाें बिना बताए मुख्य फंक्शन में चले गए। इन्होंने शराब भी पी हुई थी। बाद में सब इंस्पेक्टर खरड़ बलजिंदर सिंह ने इन तीनाें का सिविल अस्पताल खरड़ में मेडिकल भी करवाया है। वहीं, जिस इंस्पेक्टर सुखबीर सिंह की देखरेख में इन तीनाें का तैनात किया गया था, उसे भी इसमें दोषी पाया गया है। आईपीएस ऑफिसर एसपी सरताज सिंह चहल को जिम्मेदारी दी गई है।

इंटेलिजेंस ने फुटेज देख बनाई रिपोर्ट, बताया, कहां-कहां हुई लापरवाही
1. लेडीज संगीत में शामिल होने के लिए सीएम चन्नी रात साढ़े 9 रिजॉर्ट में पहंुचे। एंट्री गेट पर चेकिंग की जा रही थी। लेकिन सीएम के रिश्तेदारों की पहचान करने के लिए यहां पर पारिवारिक व्यक्ति को नहीं लगाया गया था।
2. मेन गेट पर चेकिंग में लापरवाही के चलते हथियारबंद कई मुलाजिम प्रोग्राम स्थल में पहुंच गए थे।
3. मेन गेट पर मैटल डिटेक्टर लगाया गया था। यहां तैनात कई मुलाजिम ड्यूटी करने के बजाय खाना खाने चले गए। कई पुलिसकर्मी आराम से इधर-उधर घूमते रहे
4. कई वर्दीधारी पुलिसकर्मी प्रोग्राम के अंदर शराब पीते रहे। दो-तीन तो ऐसे थे, जो शराब पीकर टल्ली हो गए थे।
5. वीआईपीज की गाड़ी जहां रुकनी थी, वहां न तो कोई वीडियोग्राफी हो रही थी और न कोई सीसीटीवी कैमरा लगाया गया था। इस कारण कोई भी शख्स कार्यक्रम में पहुंच रहा था।
6. कार्यक्रम के दौरान एक गजटिड रैंक का पुलिस ऑफिसर मंत्रियों के पैर छूता हुआ दिखाई दिया। वह ऐसा बार-बार कर रहा था। वह कार्यक्रम में अन्य मुलाजिमों और लोगों के बीच चर्चा का विषय बना रहा।
7. एक वर्दीधारी पुलिस ऑफिसर जो खरड़ सीआईए स्टाफ में तैनात है, वह भी नशे में था। वह सिक्योरिटी घेरा तोड़कर सीएम के पास पहुंचा और सीएम से अपनी नजदीकियां बढ़ाता दिखा। यहां मौजूद सिक्योरिटी ने उसे नहीं रोका।
8. फंक्शन के अंदर सादे कपड़ों में जो महिला फोर्स तैनात की गई थी, वह भी फंक्शन का आनंद उठाती दिखी। वे ड्यूटी के बजाय स्नैक्स और खाने के स्टॉल पर देखी गई।
9. फंक्शन के दौरान सीएम के आसपास वर्दीधारी पुलिसकर्मी भी दिखाई दिए।
10. सीएम सिक्योरिटी पूरी तरह से मजबूत होनी चाहिए, ताकि कोई भी शख्स उन तक न पहुंच सके और हथियार ले जाया मुलाजिम तो वहां तक पहुंचना नहीं चाहिए। लेकिन यहां यह सब नदारद था।
11. डीएफएमडीएस और एचएचएमडीएस सिस्टम पर जो कर्मचारी नियुक्त किए गए थे, वे इन गैजेट्स को चलाने में माहिर नहीं थे।
12. फंक्शन खत्म होने से पहले ही गेट पर तैनात मुलाजिम वहां से गायब पाए गए।
13. सीएम की गाड़ी के पास कई अज्ञात व्यक्ति कई बार घूमते पाए गए।
14. सीएम सिक्योरिटी में जो कमांडो तैनात किए गए थे। अधिकतर मोबाइल में वीडियो देखते और कुछ फंक्शन में शराब का सेवन करते हुए दिखाई दिए।

खबरें और भी हैं…

चंडीगढ़ | दैनिक भास्कर

About R. News World

Check Also

करनाल की घीड़ मंडी सुर्खियों में: 9 राइस मिलर्स को नहीं मिलेगा सरकारी धान, भ्रष्टाचार में लिप्त खरीद एजेंसी के इंस्पेक्टर होंगे सस्पेंड

यमुनानगरएक घंटा पहले कॉपी लिंक घीड़ अनाज मंडी में बिकने के लिए आया धान। हरियाणा …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *