Breaking News

स्टूडेंट के समर्थन में पहुंचे किसान नेता: पंजाब यूनिवर्सिटी में स्टूडेंट के धरना प्रदर्शन में शामिल होने पहुंचे किसान नेता चढूनी

  • Hindi News
  • Local
  • Chandigarh
  • In Punjab University, The Farmers’ Leader Chadhuni Came To Join The Protest Demonstration Regarding Their Demands.

चंडीगढ़13 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

किसान नेता गुरनाम चढूनी आज पीयू में स्टूडेंट के समर्थन में आए और कहा स्टूडेंट की मांगों को पूरा किया जाना चाहिए। फाइल फोटो

  • चढूनी ने कहा कि अगर पीयू में स्टूडेंट पर फिर लाठीचार्ज हुआ तो अंजाम बुरा होगा
  • किसान मामले पर बोले- भारत के किसान अपनी मांगों के लिए डटे हुए

पंजाब यूनिवर्सिटी में आज स्टूडेंट ने अपनी मांगों को लेकर वीसी कार्यालय के बाहर रोष प्रदर्शन किया। उन्होंने कहा कि वे अपनी मांगों को लेकर पिछले 21 दिनों से धरना दे रहे है लेकिन पीयू प्रशासन उनकी मांगों को नहीं मान रहा है। स्टूडेंट के आज के रोष प्रदर्शन में शामिल होने के लिए किसान नेता गुरनाम सिंह चढूनी भी कई किसानों सहित पहुंचे।

इस मौके चढूनी ने कहा कि स्टूडेंट पर लाठीचार्ज करना गलत है उन्होंने पीयू प्रशासन को ललकारते हुए कहा कि अगर भविष्य में फिर कभी स्टूडेंट पर लाठीचार्ज या ज़ुल्म किया गया तो अंजाम बुरा होगा।उन्होंने कहा कि स्टूडेंट की जायज मांगों को पीयू प्रशासन को जल्द से जल्द मानना चाहिए जिससे वे सही तरीके से अपनी स्टडी पूरी कर सके।

स्टूडेंट फॉर सोसायटी की ओर से आयोजित धरने में पहुंचे भारतीय किसान यूनियन के नेता गुरनाम सिंह ने किसान मामले पर अपने विचार व्यक्त करते हुए कहा कि इस समय भारतीय किसान वैंटिलेटर पर है, लेकिन केंद्र सरकार किसानों के हक को लेकर कोई भी फैसला लेने को तैयार नहीं है। उन्होंने कहा कि कई बार सरकार के सामने बातचीत का प्रस्ताव रखा जा चुका है, लेकिन किसानों के हित में कोई बात नहीं की जा रही। उन्होंने कहा कि कोई भी आंदोलन अहिंसा से ही सफल हो सकता है लेकिन उसमें अनुशासन होना बहुत जरूरी है। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार को किसानों की मांगों को पूरा किया जाए।

स्टूडेंट की ओर से पंजाब यूनिवर्सिटी कैंपस में यूनिवर्सिटी के बंद रहने के समय को होस्टल के जीरो समय में घोषित करने और लैब खोलने जैसी मांगों को लेकर कई दिनों से धरना दिया जा रहा है।

स्टूडेंट ने कहा कि सिंडिकेट व सीनेट के चुनाव न होने के कारण अधिकारी मनमानी कर रहे हैं, उनके हितों को कुचला जा रहा है, जो वे नहीं होने देंगे। उन्होंने कहा कि उनकी मांगों को पीयू की ओर से जल्द से जल्द सुलझाया जाए नहीं तो उनका विरोध जारी रहेगा। स्टूडेंट प्रदर्शन के दौरान पीयू सुरक्षाकर्मी और पुलिस मौके पर तैनात रही, स्टूडेंट पर पूरा गुस्सा झलक रहा था।

खबरें और भी हैं…

चंडीगढ़ | दैनिक भास्कर

About R. News World

Check Also

करनाल की घीड़ मंडी सुर्खियों में: 9 राइस मिलर्स को नहीं मिलेगा सरकारी धान, भ्रष्टाचार में लिप्त खरीद एजेंसी के इंस्पेक्टर होंगे सस्पेंड

यमुनानगरएक घंटा पहले कॉपी लिंक घीड़ अनाज मंडी में बिकने के लिए आया धान। हरियाणा …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *