Breaking News

हर तरफ पानी: बारिश से शीतला माता के दर्शन के लिए आए, हजारों श्रद्धालुओं को हुई परेशानी

गुड़गांव13 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

फाइल फोटो

  • भगवान शिव के दर्शन के लिए जिला उपायुक्त पहुंचे पांडव कालीन मंदिर

भारी बारिश से शीतला माता मंदिर परिसर में हर तरफ पानी भर गया। मन्दिर के सामने वाली मुख्य सड़क पर 4 फुट तक पानी भर गया, जिसके कारण वाहन चालकों को भारी परेशानी हुई पूरे दिन सड़क पर जाम की समस्या बनी रही। पार्किंग स्थल पर पूरे दिन कमर तक पानी भरा रहा, जिसके कारण कार पार्किंग में रखी गाड़ियां पानी में डूब गई, जिसे निकालने के लिए ट्रैक्टर का सहारा लेना पड़ा।

गाड़ियों को निकालने के लिए ट्रैक्टर ने 500 रुपए से लेकर 2000 रुपए तक की वसूली की। दूरदराज से आए श्रद्धालुओं को भारी समस्याओं का सामना करना। 25 जून से चल रहे मेला के आखिरी दिनों में माता के दर्शन के लिए दूरदराज से आए लोग रात से ही लंबी लाइनों में लगे हुए थे और सुबह 5:00 बजे मंदिर का गेट खुलने का इंतजार कर रहे थे। मगर अल सुबह 3:30 बजे से बारिश शुरू हो गई और हजारों श्रद्धालुओं के लिए भारी आफत खड़ी हो गई।

भगवान शिव के दर्शन के लिए जिला उपायुक्त पहुंचे पांडव कालीन मंदिर

फिरोजपुर झिरका| बरसों पुराना मेवात क्षेत्र का सुप्रसिद्ध पांडव कालीन शिव मंदिर जोकि मेवात क्षेत्र का आस्था का केंद्र बना हुआ है। जिसके दर्शनों के लिए लाखों की संख्या में देश प्रदेश से लोग आते हैं और भगवान शिव की पूजा अर्चना कर अपनी मन्नतें मांगते हैं। इस प्राचीन मनोरम स्थल पर स्थित पांडव कालीन शिव मंदिर को देखने के लिए जिला उपायुक्त शक्ति सिंह के मन में जिज्ञासा उत्पन्न हुई। जो कि भगवान शिव के दर्शन के लिए झिर परिसर में पहुंचकर जल अभिषेक किया। भगवान शिव के दर्शन करने के पश्चात जिला उपायुक्त शक्ति सिंह ने अरावली पहाड़ों के बीच में स्थित मनोरम स्थल को हरियाणा के सभी तीर्थों में से इसे एक अनूठा धार्मिक स्थल बताया।

खबरें और भी हैं…

दिल्ली + एनसीआर | दैनिक भास्कर

About R. News World

Check Also

अधिकारी के बेतुके बोल: परेशान लोगों ने निगम अधिकारी से पानी मांगा तो एक्स्ईएन बोले, फरीदाबाद में किसी की हिम्मत नहीं जो डिमांड पर पानी उपलब्ध करा दे

फरीदाबाद4 घंटे पहले कॉपी लिंक पानी संकट को लेकर सैनिक कॉलाेनी के लोग अफसरों के …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *