Breaking News

हाईटेक होगी गोरखनाथ मंदिर व एयरपोर्ट की सुरक्षा: गोरखनाथ मंदिर और एयरपोर्ट पर अगल से तैनात होंगे डॉग स्क्वॉयड व ​बम निरोधी दस्ता

गोरखपुर20 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

इन दोनों जगहों पर डॉग स्क्वॉयड व बम निरोधी दस्ता तैनात करने के लिए गोरखपुर जोन के एडीजी अखिल कुमार ने शासन को प्रस्ताव भी भेज दिया है।

उत्तर प्रदेश के गोरखपुर जिले में योगी आदित्यनाथ का निजी आवास व गुरु गोरक्षनाथ मंदिर सहित यहां के सिविल एयरपोर्ट की सुरक्षा पहले से और हाईटेक होगी। इन दोनों महत्वपूर्ण स्थानों पर अलग से डॉग स्क्वॉयड व बम निरोधी दस्ता टीम तैनात की जाएगी। इसके लिए पुलिस की ओर से तैयारियां शुरू की जा चुकी हैं। इन दोनों जगहों पर डॉग स्क्वॉयड व बम निरोधी दस्ता तैनात करने के लिए गोरखपुर जोन के एडीजी अखिल कुमार ने शासन को प्रस्ताव भी भेज दिया है। स्वीकृति मिलते ही इसके लिए प्रक्रिया शुरू कर दी जाएगी।

विश्व भर में ​चर्चित है गोरखपुर
एडीजी अखिल कुमार ने बताया कि गुरु गोरक्षनाथ मंदिर व सिविल एयरपोर्ट गोरखपुर ही नहीं बल्कि पूर्वांचल के महत्वपूर्ण स्थलों में शुमार है। वहीं, सीएम योगी आदित्यनाथ की लगातार बढ़ती लोकप्रियता की वजह से गोरखनाथ मंदिर व एयरपोर्ट के साथ ही गोरखपुर शहर भी विश्व भर में चिर्चित हो गया है। ऐसे में इस बात से कतई इंकार नहीं किया जा सकता है कि यह दोनों स्थान आतंकियों की हिट लिस्ट में शामिल नहीं होंगे। इसे देखते हुए यहां की सुरक्षा व्यवस्था पहले से और चाक चौबंद करने की तैयारी की जा रही है।

पुलिस के पास है सिर्फ एक- एक टीम
एडीजी के मुताबिक फिलहाल पुलिस के पास डॉग स्क्वॉयड व बम निरोधी दस्ता की मात्र जिले में एक- एक टीम है। ऐसे में जिले में होने वाली क्राइम की वारदातों में उन्हें इस्तेमाल किया जाता। इसके साथ ही मंदिर व एयरपोर्ट की सुरक्षा में भी इन दोनों टीमों को तैनात किया जाता है। ऐसे में अब मंदिर व एयरपोर्ट के लिए अलग से डॉग स्क्वॉयड व बम निरोधी दस्ता टीम तैनात हो, इसके लिए प्रस्ताव बनाकर शासन को भेज दिया गया है। स्वीकृति मिलते ही इन दोनों टीमों को तैयार कर मंदिर व एयरपोर्ट पर तैनात कर दिया जाएगा।

कई बार मिल चुकी है धमकी
बता दें कि पूर्व में सीएम योगी आदित्यनाथ सहित गुरु गोरक्षनाथ मंदिर को बम से उड़ाने की धमकियां भी कई बार मिल चुकी हैं। योगी के सीएम बनने से पूर्व भी वे आतंकियों के निशाने पर रहे हैं। शायद यही वजह है कि सांसद रहते हुए भी उन्हें सरकार की ओर से वाई श्रेणी की सुरक्षा प्रदान की गई थी, लेकिन अब सीएम बनने के बाद उनकी और गोरखनाथ मंदिर की सुरक्षा को लेकर लगातार विशेष सतर्कता बरती जा रही है। जबकि आने वाले दिनों में इन दोनों स्थानों की सुरक्षा के लिए यहां विशेष सुरक्षा बल भी तैनात की जाएगी।

खबरें और भी हैं…

उत्तरप्रदेश | दैनिक भास्कर

About R. News World

Check Also

आगरा…प्रियंका गांधी की 50 मिनट की मुलाकात: मृतक अरुण की पत्नी को गले से लगाकर रोई प्रियंका, बोली- ऐसी बर्बरता हुई जिसे मैं सोच भी नहीं सकती, यूपी में गरीबों को नहीं मिल रहा न्याय

Hindi News Local Uttar pradesh Agra Priyanka Cried Hugging The Wife Of The Deceased Arun, …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *