Breaking News

हैप्पी वैक्सीन डे 54% को सुरक्षा कवच: 25000 था लक्ष्य, 33530 को लगे टीके, जिले में अब तक 454202 लोगों को लगी वैक्सीन

सोनीपत7 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

गोहाना. मेडिकल कॉलेज में वैक्सीन लगाती नर्स।

  • मेगा वैक्सीनेशन में 3.99 फीसदी आबादी एक दिन में कवर, जिले में अब तक दूसरी डोज 10 प्रतिशत को लगी

कोरोना वायरस को हराने के लिए जिले में सोमवार को मेगा कैंप लगाकर लाेगाें काे वैक्सीनेशन किया गया। जिले में रिकॉर्ड 33530 को वैक्सीन लगाई गई, जबकि टारगेट 25 हजार का रखा गया था। करीब 14 लाख आबादी वाले जिले में अबतक 4 लाख 54 हजार 202 को वैक्सीन लग चुकी है। इसमें अबतक 54 प्रतिशत को पहली व 10 प्रतिशत को दूसरी डोज लगाई जा चुकी है। इसमें 18 वर्ष से ऊपर के 839507 को वैक्सीनेशन लगाने का लक्ष्य रखा गया है। इसके अलावा 18 प्लस, 45 प्लस व 60 प्लस के लोग शामिल हैं। जिले में वैक्सीनेशन शुरू होने के पहले चरण लोगों में भ्रम होने से गति धीमी थी। लेकिन बाद रफ्तार बढ़ी।

एक सप्ताह में जिले में आबादी का 5.8 प्रतिशत वैक्सीनेशन हुआ : जिले में एक सप्ताह में 5.8 प्रतिशत आबादी का वैक्सीनेशन हुआ है। एक सप्ताह पहले 332439 काे पहली व 72906 दूसरी डोज लग चुकी थी। जबकि 21 जून तक 371659 को पहली व 82543 को दूसरी डोज लग चुकी है। इस एक सप्ताह में 39220 को पहली व 9637 को दूसरी डोज लगी। कुल 48857 को वैक्सीनेशन किया गया।

औसतन 4 हजार को रोजाना लगती थी कोरोना वैक्सीन
जिले में अब तक औसतन 4 हजार को वैक्सीन किया जाता था। अर्थात 0.47 लाेगाें को वैक्सीन लग रही थी। लेकिन सोमवार को साढ़े 8 गुना लाेगाें काे टीका लगाया गया। एक दिन में ही 3.99 प्रतिशत आबादी को डोज लगाई गई। 29500 को पहली व 4030 को दूसरी डोज लगी।

6 से आठ सप्ताह में तीसरी लहर का खतरा, वैक्सीन करेगी सुरक्षित
कोरोना की तीसरी लहर 6 से 8 सप्ताह में आ सकती है। ऐसे में जिले की 85 प्रतिशत आबादी को वैक्सीनेशन का कवच देना जरूरी है। सोमवार को हुए वैक्सीनेशन कैंप की तरह 11 कैंप लगाए जाएं तो जिले की 85 प्रतिशत आबादी काे वैक्सीन लग जाएगी। वैसे अब वैक्सीन को लेकर कोई समस्या नहीं है।

खबरें और भी हैं…

हरियाणा | दैनिक भास्कर

About R. News World

Check Also

टैंकर की टक्कर से बुजुर्ग की मौत: PGI से दवाई लेकर पानीपत लौट रहे थे नाना-दोहता, हादसे में नाना की मौके पर मौत, दोहता घायल

Hindi News Local Haryana Rohtak Nana Dohta Was Returning To Panipat With Medicines From PGI, …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *