Breaking News

24 हजार क्विंटल धान का फर्जीवाड़ा: कुंजपुरा मंडी सचिव, सुपरवाइजर सहित 3 सस्पेंड, कई मंडियां रडार पर;  करनाल और निसिंग में राइस मिल की होगी चेकिंग

करनाल3 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

करनाल जिले के कुंजपुरा के तहत आने वाली घीड़ मंडी में करीब 24 हजार क्विंटल का फर्जीवाड़ा सामने आने के बाद हरियाणा राज्य कृषि विपणन बोर्ड के चीफ एडमिनिस्ट्रेटर विनय सिंह ने कुंजपुरा मंडी सचिव, घीड़ मंडी सुपरवाइजर, ऑक्शन रिकार्डर धर्मवीर को तुरंत प्रभाव से सस्पेंड कर दिया। करनाल में बोर्ड सीए की यह अब तक की सबसे बड़ी कार्रवाई है। इससे पहले ही करनाल, तरावड़ी, इंद्री के सचिवों को सस्पेंड किया जा चुका है।

यही नहीं भ्रष्टाचार का बड़ा मामले सामने आने के बाद करनाल की कई मंडियां अब रडार पर आ चुकी हैं, जिनकी पुख्ता रिपोर्ट मिल चुकी है। जल्द ही कई मंडियों में कार्यरत अधिकारियों पर गाज गिर सकती हैं। हालांकि इस बारे में अभी विभाग के अधिकारी ने पूरी जानकारी देने से मना कर दिया, लेकिन इतना तय है कि कार्रवाही जल्द होगी।

करनाल जिले के कुंजपुरा मंडी।

करनाल जिले के कुंजपुरा मंडी।

इससे पहले धान खरीद में फर्जीवाड़ा सामने आने के बाद मंडी सुपरवाइजर धीरज कुमार, ऑक्शन रिकार्डर धर्मवीर सिंह, कम्प्यूटर ऑपरेटर दीपक व अंकुश के खिलाफ एफआईआर दर्ज की। इस बीच कई राइस मिलर्स भी सरकार के निशाने पर आ चुके हैं, क्योंकि जिला नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता मामले विभाग के अधिकारी को कई शिकायतें मिली हैं। इसके बाद कभी भी इन राइस मिल पर चेकिंग की जा सकती है।

क्या मंडियों में बड़े पैमाने पर चल रहा खेल
सवाल है कि क्या मंडियों में बड़े स्तर पर भ्रष्टाचार का खेल चलता है, करोड़ों रुपए का लेन-देन होता है। करनाल की मंडियों में कार्यरत चार सचिवों को संस्पेंड किया जा चुका है। इसके बावजूद मंडियों में भ्रष्टाचार जारी रहा। हालांकि सरकार इस खेल को रोकने के लिए पूरी सर्तकता से काम कर रही हैं, फिर भी बड़े पैमाने पर हो रहा भ्रष्टाचार क्यों नहीं रूक रहा?

क्या भ्रष्टाचार में मंडी के अधिकारी ही शामिल?
मंडियों में कब से धान खरीद में भ्रष्टाचार चल रहा है, क्या इस खेल में केवल मंडी के कुछ कर्मचारी शामिल हैं? मंडियों के अधिकारी अन्य खरीद एजेंसियों के अधिकारियों के बिना यह संभव नजर नहीं आता। शक है कि कई राइस मिलर्स, कई मंडियों के अधिकारियों, कर्मचारियों से मिलीभगत करके पोर्टल नजर रखे हुए हैं, ताकि भ्रष्टाचार को अंजाम दे सके।

किसी को बख्शा नहीं जाएगा
हरियाणा राज्य कृषि विपणन बोर्ड के चीफ एडमिनिस्ट्रेटर विनय सिंह ने बताया कि घीड़ मंडी में भ्रष्टाचार को देखते हुए कुंजपुरा मंडी सचिव, घीड़ मंडी सुपरवाइजर, आक्शन रिकार्डर धर्मवीर को तुरंत प्रभाव से सस्पेंड कर दिया हैं। करनाल की कई मंडियों की रिपोर्ट उनके संज्ञान में है, जल्द ही उन पर कार्रवाई होगी। इन मंडियों के बारे में फिलहाल कुछ नहीं बता सकते। मंडियों में भ्रष्टाचार अब नहीं चलेगा, किसी को बख्शा नहीं जाएगा। किसानों का धान समर्थन मूल्य पर बिके, सीधा लाभ किसानों को। इसके लिए गंभीरता के साथ हर मंडी पर पूरी नजर हैं।

कई राइस मिलर्स की मिली शिकायतें: डीएफएससी डीएफएससी अशोक रावत ने बताया कि भ्रष्टाचार के खिलाफ कार्रवाई जारी है। करनाल व निसिंग के कई राइस मिलर्स की शिकायतें मिली हैं, मामला हेड क्वार्टर के संज्ञान में हैं। किसी भी वक्त इन मिलों में चेकिंग होंगी। हर पहलू को खंगाला जा रहा हैं, काफी कुछ सबूत मिले हैं। जिनके आधार पर आगामी कार्यवाही अमल में लाई जाएगी।

खबरें और भी हैं…

हरियाणा | दैनिक भास्कर

About R. News World

Check Also

लुटेरे पकड़वाओ, 25 हजार पाओ: रेवाड़ी में 7 लाख की लूट मामले में पुलिस के हाथ लगीं CCTV फुटेज, पहचान के लिए तस्वीरें जारीं

रेवाड़ी2 घंटे पहले कॉपी लिंक पुलिस द्वारा जारी किए गए आरोपियों के फोटो। हरियाणा के …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *