Breaking News

BSF बॉर्डर के गांवों में कर रही मदद: तनोट वारियर्स ने जरूरतमंद परिवारों को बांटी खाद्य सामग्री, DIG बोले बीएसएफ सरहद की सुरक्षा के साथ जरूरतमंदो की मदद के लिए भी तैयार

  • Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Barmer
  • Tanot Warriors Distributed Food Items To Needy Families, DIG Said BSF Is Also Ready To Protect The Border And Help The Needy

बाड़मेर10 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

जरूरतमंदो को खाद्य सामग्री वितरित की गई।

बीएसएफ के जवान सीमा की सुरक्षा के साथ-साथ जरूरतमंद परिवारों के सहयोग के लिए भी आगे आ रहे हैं। बीएसएफ इस कोरोनाकाल में सीमा के आसपास गांवो मेें रहने वाले गरीब परिवारों को खाद्य सामग्री के पैकेट वितरित कर रहे हैं।

सीमा सुरक्षा बल 13 वाहिनी तनोट वारियर्स की ओर से पांचला एवं मोती की बेरी में जरूरतमंद परिवारों को उप महानिरीक्षक विनीत कुमार एवं कमांडेंट जी.एल.मीणा ने खाद्य सामग्री के पैकेट वितरित किए। उन्होने सीमा सुरक्षा बल की ओर से ग्रामीणों को यथासंभव सहयोग करने का भरोसा दिलाया। पांचला और मोती की बेरी के 16 जरूरतमंद परिवारों को खाद्य सामग्री के पैकेट वितरित किए गए।

सीमा सुरक्षा बल के उप महानिरीक्षक विनीत कुमार ने कहा कि पाकिस्तान अपनी नापाक हरकतों से बाज नहीं आ रहा है और मादक पदार्थो तथा हथियारों की तस्करी करने की फिराक में रहता है। पिछले कुछ दिनों पहले जम्मू इलाके में ड्रोन से हथियार भेजने की कोशिश की थी, इसे बीएसएफ के मुस्तैद जवानों ने नाकाम कर दिया। उन्होंने ग्रामीणों से कोरोना प्रोटोकॉल की पालना करने, कोई भी अवैध गतिविधि होने पर सीमा सुरक्षा बल को सूचित करने का आग्रह किया। उन्होने ग्रामीणों के सहयोग की सराहना की।

तनोट वारियर्स 13 वाहिनी के कमांडेंट जी.एल.मीणा ने कहा कि कोरोना संकट में ग्रामीणों को सहायता के लिए बीएसएफ तत्पर रही है। उन्होंने कहा कि कोरोना महामारी के दौरान कई लोगों का रोज़गार छीन गया और जीवनयापन करने में काफी परेशानी हुई है। मीणा ने कहा कि सीमावर्ती गांवों के लोग बीएसएफ के लिए आंख और कान का काम करते है। सरहदों को सुरक्षित रखने में उनका बहुत बड़ा योगदान है।

इस मौके पर सुन्दरा निवासी श्यामसिंह ने बीएसएफ के इस कदम को सराहना की और सीमावर्ती ग्रामों में चिकित्सा सुविधाओं में वृद्धि करने, कैंटीन की सुविधा देने तथा कंप्यूटर प्रशिक्षण दिलवाने के लिए निवेदन किया। इस पर डीआईजी विनीत कुमार ने हरसंभव सहयोग करने का आश्वासन दिया।

खबरें और भी हैं…

राजस्थान | दैनिक भास्कर

About R. News World

Check Also

जुर्माने के 6500 रुपए नहीं थे तो बना साधु: ट्रक चलाने का काम करता था, 37 की उम्र में गाड़ी से हो गई थी बालिका की मौत; जुर्माने लगा तो हो गया फरार

Hindi News Local Rajasthan Alwar The Truck Driver Of Milakpur Village Of Alwar Was Fined …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *