Breaking News

MP में अंगारों पर चलने का VIDEO: मन्नत पूरी होने पर करते हैं चुल, 8 फीट लंबी-ढाई फीट चौड़ी खाई खोद नंगे पांव चलते हैं लोग

मंदसौरएक घंटा पहले

खोदी गई खाई में चलते अंगारे।

मंदसौर जिले के सीतामऊ के भगोर गांव में नवरात्रि के अंतिम दिन नवमी को माता विदाई के साथ चुल के आयोजन किया गया। ग्रामीण इसे वाड़ी विसर्जन कहते हैं। आस्था और भक्ति के कई रूपों में यह भी एक रूप है, जहां भक्त अंगारों पर चलकर भक्ति की अग्नि परीक्षा देते हैं।

नवरात्रि में घट स्थापना से लेकर नवमी तक श्रद्धालु मां की आराधना करते हैं। इन दिनों यहां गरबा, रास और अन्य कार्यक्रम आयोजित होते हैं। नवरात्रि के अंतिम दिन माता के विसर्जन के दौरान दिनभर हवन-पूजन का कार्यक्रम होता है। इसके बाद शाम को चुल का आयोजन किया जाता है, जिसे ग्रामीण वाड़ी विसर्जन कहते हैं। इसमें ऐसे लोग अंगारों पर से चलते हैं, जिनकी मांगी हुई मन्नत पूरी हो जाती है।

जलते अंगारों से निकलते लोग।

अंगारों के लिए तैयार की जाती है चुल

नवमी के दिन करीब ढाई फीट चौड़ी और आठ फीट लंबा गड्‌ढा खोदा जाता है। इसमें सूखी लकड़ियां डालकर दहकते अंगारों में परिवर्तित किया जाता है। इसके बाद ग्रामीण इसमें देशी घी डालकर अंगारों को दहकया जाता है। इसके बाद माता के भक्तों इन दहकते अंगारों पर नंगे पैर चलते हैं।

अब तक नहीं हुआ हादसा

आस्था के अंगारों पर आज तक कभी कोई भक्त न तो चोटिल हुआ है और न ही कोई दुर्घटना हुई है। भक्तों में आस्था भी ऐसी है कि दहकते अंगारों पर बच्चे भी बेखौफ होकर निकल जाते हैं। जिला मुख्यालय सहित कई ग्रामीण इलाकों में इस तरह का आयोजन होता है।

खबरें और भी हैं…

मध्य प्रदेश | दैनिक भास्कर

About R. News World

Check Also

गुना में रेप का आरोपी निकला चोर: कुछ दिन पहले ही जमानत पर जेल से छूटकर आया, पड़ोसी के घर में कर दी 3.12 लाख की चोरी

गुनाएक घंटा पहले कॉपी लिंक पुलिस की गिरफ्त में चोरी का आरोपी। गुना जिले के …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *